×

पीओके मेंपाक-चीन का गंदा खेल इस तकनीक का इस्तमाल े जाससी ूके लिए कररहा है.

 

पीओके मेंपाक-चीन का गंदा खेल इस तकनीक का इस्तमाल े जाससी ूके लिए कररहा है.

 

 

 

पाकिस्तान तकनीक का इस्तमाल े कर कश्मीर मेंआतंकी गतिविधियों को अजाम ं देरहा है. भारत नेऐसी
गतिविधियों को रोकनेके लिए सख्त उपाय लागूकिए हैं। पाकिस्तान अपनेआतंकी संगठनों और चीन
की मदद सेउन्नत तकनीक के जरिए भारत मेंआतंकी गतिविधियांसंचालित करनेमेंजटा ु हुआ है।

पाकिस्तान तकनीक का इस्तमाल े कर कश्मीर मेंआतंकी गतिविधियों को अजाम ं देरहा है. भारत नेऐसी
गतिविधियों को रोकनेके लिए सख्त उपाय लागूकिए हैं। पाकिस्तान अपनेआतंकी संगठनों और चीन
की मदद सेउन्नत तकनीक के जरिए भारत मेंआतंकी गतिविधियांसंचालित करनेमेंजटा ु हुआ है।

इन टेक्नोलॉजी को किया जा रहा हैइस्तमाल े म

पाकिस्तान आतंक फैलानेके लिए कश्मीर मेंघसपु ठै की कोशिश कर रहा है. इसी परिस्थिति को देखते
हुए पाकिस्तान POK और LOC मेंटेलिकॉम नेटवर्क स्थापित कर रहा है। दरसंचार ू सिग्नल को बढ़ानेके
लिए, पाकिस्तान की खफिु या एजेंसी, आईएसआई के साथ मिलकर एक विशषे संचार संगठन (एससीओ)
की स्थापना की गई है।

इस्तमाल े किया जा रहा हैगैरजरुरी ट्रांसमिशन का

इस प्रोजेक्ट मेंसरुक्षा कारणों सेअतररा ं ष्ट्रीय सीमा के पास टेलीकॉम टावर लगाए जा रहेहैं. रेडियो संचार
ब्यरो ू (बीआर) नेसभी स्टेशनों को अनावश्यक, गैर-जरूरी, गलत या भ्रामक सिग्नल ट्रांसमिशन करनेया
अज्ञात सिग्नल प्रसारित करनेसेप्रतिबंधित कर दिया है।

मदद की सरु क्षा एजेंसियों न

नए दरसंचार ू टावर सीडीएमए तकनीक का उपयोग कर रहेहैं, जिसमेंपाकिस्तान स्थित एन्क्रिप्शन
वाईएसएमएस संदेशों का उपयोग एक चीनी फर्म द्वारा किया जा रहा है। यह तकनीक आतंकवादियों को
जम्म-ूकश्मीर क्षेत्र मेंप्रवेश करनेसेरोकनेमेंमदद कर रही है। सरुक्षा एजेंसियों ने2019 और 2020 में
एन्क्रिप्शन को क्रैक करके पाकिस्तान की योजना को खोजा और विफल कर दिया।

 

 

Previous post

मात्र 1500 रुपयेमेंआप दसर ूेदेश की यात्रा कर सकतेहैंजहां हमारी रुपया मल्ूय केमामलेमेंडॉलर के बराबर है।

Next post

Xiaomi नेपष्टि ुकी हैकि Xiaomi 14 को भारत मेंएक खास दिन लॉन्च कियाजाएगा, जिसमेंकई दमदार फीचर्स उपलब्ध होंगे।

Post Comment